Home चंद्रपूर  भारी वाहनों के आवागमन से मार्ग खस्ताहाल।।

भारी वाहनों के आवागमन से मार्ग खस्ताहाल।।

96

टोल बचाने ट्रांसपोर्टरों ने पकड़ी नई राह।

प्रशासनों की चुप्पी सन्देह जनक।

माजरी। प्रतिनिधि
माजरी थाना क्षेत्र के अंतर्गत माजरी -भद्रावती मार्ग पर कोल ट्रांसपोर्टिंग तथा अन्य भारी वाहनों के पिछले कुछ महीने से लगातार आवागमन से माजरी शहर के रास्ते मे बड़े-बड़े गड्ढे पड़ गये है। जबकि इस मार्ग पर क्षमता से अधिक कोल ट्रांसपोर्टिंग वाहनों के आने-जाने से एकमात्र माजरी शहर के रास्ते मे बड़े बड़े गड्ढे पड़ गए है।लेकिन इस रास्ते का पुनः निर्माण करने के लिए सार्वजनिक बांधकाम विभाग ने राज्य सरकार द्वारा स्टे लगाने का कारण बताते हुए सड़क का निर्माण करने से इंकार कर दिया। ऐसी स्थिति में माजरी ग्रामपंचायत द्वारा ठराव लेकर भारी वाहनों के आवागमन पर रोक लगाने के बावजूद ग्रामपंचायत के नियमों की धज्जियाँ उड़ाते हुए भारी वाहनो का आवागमन बदस्तूर जारी है। इस मार्ग से आवागमन करने वाले स्थानीय जनता का बुरा हाल है। पुलिस की सन्देह जनक भूमिका के कारण ट्रांसपोर्टर अपनी मनमानी करते दिखाई दे रहे है। ऐसा आरोप नागरिकों ने लगाया है। जिसका खामियाजा प्रदूषण के रूप में जनता और दुकानदारों को भुगतना पड़ रहा है।
इस विषय मे जनप्रतिनिधियों ने भी मार्ग के निर्माण कार्य के विषय में उदासीनता ही दिखाई। अब बड़े कोल ट्रांसपोर्टर वणी-वरोरा नेशनल हाइवे का निर्माण होने और नये टोल बूथ पर टोल टैक्स लागू होने के बाद अपना टोल फीस बचाने के लिए पाटाला से माजरी होकर दिन-रात वाहनों का आवागमन कर रहे है। जिसके कारण सरकार का प्रतिदिन टोल टैक्स ट्रांसपोर्टरों द्वारा बचाया जा रहा है। इस बात को लेकर माजरी थाने में स्थानीय नागरिकों ने अनेको बार शिकायत किया। इस विषय पर माजरी पुलिस ने कार्रवाई करने में असमर्थता जताई। जबकि सार्वजनिक बांधकाम और प्रादेशिक परिवहन अधिकारी चंद्रपुर ने भी किसी तरह का इन वाहनों पर क्षमता से अधिक माल ढुलाई करने पर कार्रवाई करने में असमर्थता व्यक्त की है। अब सभी विभागों का कहना है कि इस विषय मे जिलाधिकारी चंद्रपुर ही आवश्यक निर्णय ले सकते है। जबकि माजरी और भद्रावती को जोड़ने के लिए सिरना नाले पर बना 50 मीटर एकमात्र लंबा 30 साल पुराना पुल है। जोकि सैकड़ो बाढ़ झेल चुके एकमात्र पुल पर कभी भी भयंकर दुर्घटना घट सकती है। इस विषय मे जिलाप्रशासन को ध्यान देकर आवश्यक कार्रवाई करने की जरूरत है।

 

Previous articleठक आर्ट गॅलरीतील चित्र प्रदर्शनीला रसिक प्रेक्षकांचा उत्स्फूर्त प्रतिसाद
Next article*वरोरा येथे बंजारा परंपरेतील सार्वजनिक तिज महोत्सव उत्साहात साजरा